- Advertisement -spot_img
HomeUttarakhandDehradunUttarakhand News: Chief Minister Pushkar Singh Dhami On Tehri, Pithoragarh And Udhamsingh...

Uttarakhand News: Chief Minister Pushkar Singh Dhami On Tehri, Pithoragarh And Udhamsingh Nagar Visit Form Today – उत्तराखंड: आज से टिहरी, पिथौरागढ़ व यूएसनगर के दौरे पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, 14 को लौटेंगे दून

- Advertisement -spot_img

14 नवंबर को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी देहरादून लौटेंगे और 15 नवंबर को वह कुमाऊं दौरे पर आ रहे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के प्रवास कार्यक्रम में शामिल होने के लिए जाएंगे।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी आज शुक्रवार को टिहरी, पिथौरागढ़ व ऊधमसिंहनगर के दौरे पर रहेंगे। शुक्रवार को मुख्यमंत्री धामी ने पहले टिहरी के गजा में घंटाकर्ण धाम का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि देवभूमि पूरी दुनिया में अपनी धार्मिक संस्कृति के लिए प्रसिद्ध है। यहां हर क्षेत्र में भगवान का वास है और सरकार मंदिरों और पर्वों को लेकर गंभीर है। इसके बाद मुख्यमंत्री वहां से रवाना होकर जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचे।

14 नवंबर को देहरादून लौटेंगे मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी
यहां से मुख्यमंत्री स्टेट प्लेन से पिथौरागढ़ रवाना हो गए। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी अपने तीन दिवसीय भ्रमण कार्यक्रम के तहत दोहपर करीब ढाई बजे पिथौरागढ़ पहुंचे। मुख्यमंत्री स्टेट प्लेन से नैनीसैनी एयरपोर्ट पहुंचे। यहां से उनके स्वागत में रोडशो निकाला गया। इस दौरान मुख्यमंत्री लोगों से भी मिले। इसके बाद मुख्यमंत्री देव सिंह मैदान में शरदोत्सव व विकास प्रदर्शनी का उद्घाटन करेंगे। यहां वह करोड़ों के विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास भी करेंगे।

14 नवंबर को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी देहरादून लौटेंगे और 15 नवंबर को वह कुमाऊं दौरे पर आ रहे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के प्रवास कार्यक्रम में शामिल होने के लिए जाएंगे। नड्डा 16 नवंबर तक कुमाऊं के अल्मोड़ा जिले में प्रवास करेंगे।

कैबिनेट की बैठक स्थगित
वहीं मुख्यमंत्री व मंत्रियों की व्यस्तता के चलते गुरुवार को कैबिनेट की बैठक स्थगित कर दी गई। बैठक की नई तिथि अभी तय नहीं हुई है। प्रदेश मंत्रिमंडल की बैठक राज्य सचिवालय में शाम सात बजे से तय थी। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और उनके मंत्रिमंडल सहयोगियों के दिन के समय पहले से कार्यक्रम तय थे। ऐसी उम्मीद थी कि कुछ मंत्रियों के शाम तक राजधानी लौटने पर बैठक हो जाएगी। लेकिन अधिकांश मंत्रियों ने बैठक में समय पर आने में असमर्थता व्यक्त की। इसके चलते बैठक स्थगित कर दी गई। कैबिनेट बैठक की अगली तिथि अब 16 नवंबर के बाद ही तय होगी।

पुरानी पेंशन बहाली को लेकर कौशिक ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र
पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर संयुक्त मोर्चा की चेतावनी रैली के बाद भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने पुरानी पेंशन बहाली पर कार्रवाई करने के लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को पत्र लिखा है। संयुक्त मोर्चा ने सभी कर्मचारियों से 14 नवंबर को इगास पर्व पर एक दीपक पुरानी पेंशन के नाम अवश्य जलाएं।

संयुक्त मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अनिल बडोनी ने कहा कि पुरानी पेंशन बहाली की मांग पर सात नवंबर को प्रदेश भर के कर्मचारियों ने चेतावनी रैली निकाली थी। इसे देखते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कर्मचारियों के हित में पुरानी पेंशन बहाली के लिए मुख्यमंत्री धामी को पत्र लिखा है।

अब देखना है कि सरकार इस पत्र पर कितना अमल करती है। सीएम को पत्र भेजने के लिए संयुक्त मोर्चा ने कौशिक का आभार जताते हुए उम्मीद जताई कि आगामी कैबिनेट में कार्मिकों की अत्यंत महत्वपूर्ण मांग को पूरा किया जाएगा। मोर्चा के महासचिव सीताराम पोखरियाल ने कहा कि मोर्चा को सरकार की ओर से आश्वासन दिया गया था कि पुरानी पेंशन बहाली पर कैबिनेट में निर्णय लिया जाएगा। इसे देखते हुए मोर्चा ने आगामी कैबिनेट तक किसी भी कार्यक्रम को टाल दिया है। अब कैबिनेट के बाद ही आगामी रणनीति पर फैसला लिया जाएगा। मोर्चा ने प्रदेश के 80 हजार कर्मचारियों से 14 नवंबर को इगास पर्व पर एक दीपक पुरानी पेंशन के नाम जलाने का आह्वान किया।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी आज शुक्रवार को टिहरी, पिथौरागढ़ व ऊधमसिंहनगर के दौरे पर रहेंगे। शुक्रवार को मुख्यमंत्री धामी ने पहले टिहरी के गजा में घंटाकर्ण धाम का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि देवभूमि पूरी दुनिया में अपनी धार्मिक संस्कृति के लिए प्रसिद्ध है। यहां हर क्षेत्र में भगवान का वास है और सरकार मंदिरों और पर्वों को लेकर गंभीर है। इसके बाद मुख्यमंत्री वहां से रवाना होकर जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचे।

14 नवंबर को देहरादून लौटेंगे मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी

यहां से मुख्यमंत्री स्टेट प्लेन से पिथौरागढ़ रवाना हो गए। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी अपने तीन दिवसीय भ्रमण कार्यक्रम के तहत दोहपर करीब ढाई बजे पिथौरागढ़ पहुंचे। मुख्यमंत्री स्टेट प्लेन से नैनीसैनी एयरपोर्ट पहुंचे। यहां से उनके स्वागत में रोडशो निकाला गया। इस दौरान मुख्यमंत्री लोगों से भी मिले। इसके बाद मुख्यमंत्री देव सिंह मैदान में शरदोत्सव व विकास प्रदर्शनी का उद्घाटन करेंगे। यहां वह करोड़ों के विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास भी करेंगे।

14 नवंबर को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी देहरादून लौटेंगे और 15 नवंबर को वह कुमाऊं दौरे पर आ रहे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के प्रवास कार्यक्रम में शामिल होने के लिए जाएंगे। नड्डा 16 नवंबर तक कुमाऊं के अल्मोड़ा जिले में प्रवास करेंगे।

कैबिनेट की बैठक स्थगित

वहीं मुख्यमंत्री व मंत्रियों की व्यस्तता के चलते गुरुवार को कैबिनेट की बैठक स्थगित कर दी गई। बैठक की नई तिथि अभी तय नहीं हुई है। प्रदेश मंत्रिमंडल की बैठक राज्य सचिवालय में शाम सात बजे से तय थी। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और उनके मंत्रिमंडल सहयोगियों के दिन के समय पहले से कार्यक्रम तय थे। ऐसी उम्मीद थी कि कुछ मंत्रियों के शाम तक राजधानी लौटने पर बैठक हो जाएगी। लेकिन अधिकांश मंत्रियों ने बैठक में समय पर आने में असमर्थता व्यक्त की। इसके चलते बैठक स्थगित कर दी गई। कैबिनेट बैठक की अगली तिथि अब 16 नवंबर के बाद ही तय होगी।

पुरानी पेंशन बहाली को लेकर कौशिक ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर संयुक्त मोर्चा की चेतावनी रैली के बाद भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने पुरानी पेंशन बहाली पर कार्रवाई करने के लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को पत्र लिखा है। संयुक्त मोर्चा ने सभी कर्मचारियों से 14 नवंबर को इगास पर्व पर एक दीपक पुरानी पेंशन के नाम अवश्य जलाएं।

संयुक्त मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अनिल बडोनी ने कहा कि पुरानी पेंशन बहाली की मांग पर सात नवंबर को प्रदेश भर के कर्मचारियों ने चेतावनी रैली निकाली थी। इसे देखते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कर्मचारियों के हित में पुरानी पेंशन बहाली के लिए मुख्यमंत्री धामी को पत्र लिखा है।

अब देखना है कि सरकार इस पत्र पर कितना अमल करती है। सीएम को पत्र भेजने के लिए संयुक्त मोर्चा ने कौशिक का आभार जताते हुए उम्मीद जताई कि आगामी कैबिनेट में कार्मिकों की अत्यंत महत्वपूर्ण मांग को पूरा किया जाएगा। मोर्चा के महासचिव सीताराम पोखरियाल ने कहा कि मोर्चा को सरकार की ओर से आश्वासन दिया गया था कि पुरानी पेंशन बहाली पर कैबिनेट में निर्णय लिया जाएगा। इसे देखते हुए मोर्चा ने आगामी कैबिनेट तक किसी भी कार्यक्रम को टाल दिया है। अब कैबिनेट के बाद ही आगामी रणनीति पर फैसला लिया जाएगा। मोर्चा ने प्रदेश के 80 हजार कर्मचारियों से 14 नवंबर को इगास पर्व पर एक दीपक पुरानी पेंशन के नाम जलाने का आह्वान किया।

More Info…

- Advertisement -spot_img
- Advertisement -spot_img
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
- Advertisement -spot_img
Related News
- Advertisement -spot_img