- Advertisement -spot_img
HomeUttarakhandDehradunElection 2022 News: Manish Sisodia Will Come Uttarakhand On Two Days Visit...

Election 2022 News: Manish Sisodia Will Come Uttarakhand On Two Days Visit From Today – चुनाव 2022: सियासी माहौल गरमाने उत्तराखंड पहुंचे मनीष सिसोदिया, व्यापारियों से मांगा साथ

- Advertisement -spot_img

Uttarakhand Election 2022 News: मनीष सिसोदिया ने कहा कि हम आने वाले चुनाव से पहले इस बात की संभावनाएं तलाश रहे हैं कि अगर आप की सरकार बनी तो उसमें व्यापारियों की भूमिका क्या होगी।

आम आदमी पार्टी के नेता व दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया सियासी माहौल गरमाने आज से दो दिन के दौरे पर उत्तराखंड पहुंचे हैं। इस दौरान उन्होंने देवभूमि बिजनेस डायलॉग में व्यापारियों के साथ संवाद किया।

उन्होंने कहा कि हम आने वाले चुनाव से पहले इस बात की संभावनाएं तलाश रहे हैं कि अगर आप की सरकार बनी तो उसमें व्यापारियों की भूमिका क्या होगी। दिल्ली में केजरीवाल ने दो सिद्धान्त रखे हैं। पहला ये कि अगर कोई व्यापार कर रहा है तो वह केवल अपनी नहीं बल्कि पूरे प्रदेश की तरक्की करता है। दूसरा ये कि व्यापार करना व्यापारी का काम है, सरकार का नहीं। दिल्ली में तमाम बंदिशों के बाद इतनी तरक्की हो सकती है तो उत्तराखंड में तो इससे भी ज्यादा हो सकती है। यहां अपार संभावनाएं हैं। व्यापारियों से बातचीत में सिसौदिया ने कहा कि हमारी सरकार बनवाइए। हमारा वित्त मंत्री कोई भी फैसला बिना व्यापारियों से बात किए बिना नहीं लेगा।

हमारी 49 दिन की सरकार दिल्ली में आई तो 29 अधिकारियों के खिलाफ रिश्वत मांगने के आरोप में कार्रवाई हुई। दोबारा सरकार आई तो हमनें सेल टैक्स के अधिकारियों के राज को खत्म किया। तब दिल्ली के इतिहास में सबसे ज्यादा टैक्स कलेक्शन हुआ था।

किसान संकल्प यात्रा: उत्तराखंड में आप सांसद भगवंत मान की हुंकार, कहा- सत्ता में आते ही किसानों को देंगे सात गारंटी

कहा कि केजरीवाल ने व्यापारियों के साथ बात की। व्यापार बढ़ाने पर बात की। अलग-अलग संगठनों ने वैट की दर कम करने का सुझाव रखा है। 12.5 फीसदी से 5 फीसदी पर हमनें बात की। दिल्ली के इतिहास में सबसे पहले हमनें टिम्बर पर टैक्स घटाया। इससे एक प्रतिशत ज्यादा राजस्व आया। अगले बजट में हमनें 42 उत्पादों पर टैक्स 5 फीसदी कर दिया। 5 साल के अंदर रेड राज बंद हो गया।

व्यापारी ईमानदारी से काम करना चाहता है। अगर उसे दुखी न करें तो वह टैक्स जमा करता है। व्यापारी की सबसे बड़ी पीड़ा सरकारी दफ्तर की खिड़कियां हैं। इससे दलाल राज बढ़ता है। उत्तराखंड में सरकार बनी तो यहां भी टैक्स कम ही होगा। व्यापारियों से आह्वान किया कि हमें बस आपका साथ चाहिए।

जीएसटी की प्रक्रिया को आसान बनाया
आज दिल्ली में बिजली नहीं बनती लेकिन फ्री और सस्ती बिजली 24 घंटे लोगों को मिलती है। जब जीएसटी लागू हुआ तो व्यापारियों की सीए पर निर्भरता बढ़ने लगी। हमनें व्यापारियों के लिए इसे आसान बनाया। 500 जीएसटी मित्र बनाए। सीएम हर छह माह में समस्या सुनते थे। मैं हर जीएसटी कौंसिल की बैठक से पहले व्यापारियों से बैठक करता हूं। इसके बाद बैठक में व्यापारियों की समस्या रखी जाती है। आज दिल्ली की ग्रोथ 11 से 12 फीसदी है और उत्तराखंड की 5 फीसदी। दिल्ली के आम आदमी की प्रति व्यक्ति आय तीन लाख 54 हजार है, उत्तराखंड में प्रति व्यक्ति आय 2 लाख है।

व्यापारियों के पास है बेरोजगारी की समस्या का समाधान
उन्होंने कहा कि देश में बेरोजगारी की समस्या का समाधान व्यापारियों के पास है। व्यापार बढ़ेगा तो रोजगार बढ़ेगा। हमनें दिल्ली में भी उद्यमिता का पाठ्यक्रम शुरू किया है। 9वीं से 12वीं और आगे की कक्षाओं के लिए यह शुरुआत की गई है। 11वीं- 12वीं के बच्चों को सीड मनी देने के लिए 100 करोड़ देने जा रहे हैं। उनसे बिजनेस आइडिया ले रहे हैं। 51 हजार बिजनेस आइडिया पर दिल्ली के बच्चे काम कर रहे। एक दिन यही सब बड़े बिजनेसमैन बनेंगे।

उत्तराखंड में आप के सीएम पद के उम्मीदवाल कर्नल अजय कोठियाल ने कहा कि दिल्ली में शिक्षा का जो मॉडल है, उसे देश के अलग-अलग राज्य फॉलो करने की कोशिश कर रहे हैं। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने शिक्षा का मॉडल पेश कर इतिहास रचा है। उत्तराखंड में शिक्षा की स्थिति बदहाल होती जा रही है। दिल्ली में शिक्षा, स्वास्थ्य की बेहतर सुविधा है। वहां का बजट लाभ में है। अगर उत्तराखंड में हमारी सरकार आएगी तो इस दिशा में काम करना हमारी प्राथमिकता होगी।

17 नवंबर को उत्तरकाशी का दौरा करेंगे। उनके दौरे को लेकर पार्टी कार्यकर्ताओं में खासा उत्साह है। इस दौरान वे उत्तरकाशी में रैली निकालकर रोड शो करेंगे। सबसे पहले वे सुबह 10 बजे नेहरू पर्वतारोहण संस्थान में जाएंगे। शौर्य स्थल उत्तरकाशी में शहीदों को श्रद्धासुमन अर्पित करेंगे। इसके बाद ज्ञानसु टनल से विश्वनाथ मंदिर तक रोड शो में हिस्सा लेंगे। साथ ही काशी विश्वनाथ मंदिर में बाबा विश्वनाथ के दर्शन कर उनका आशीर्वाद लेंगे।

विश्वनाथ मंदिर के दर्शन के बाद मनीष सिसोदिया उत्तरकाशी के रामलीला मैदान में जनसभा को संबोधित करेंगे। इसके लिए पार्टी कार्यकर्ता अपनी पूरी तैयारी कर चुके हैं। उत्तरकाशी जनसभा के बाद सड़क मार्ग से नरेंद्रनगर होते हुए जौलीग्रांट पहुंच कर वापस दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

आम आदमी पार्टी के नेता व दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया सियासी माहौल गरमाने आज से दो दिन के दौरे पर उत्तराखंड पहुंचे हैं। इस दौरान उन्होंने देवभूमि बिजनेस डायलॉग में व्यापारियों के साथ संवाद किया।

उन्होंने कहा कि हम आने वाले चुनाव से पहले इस बात की संभावनाएं तलाश रहे हैं कि अगर आप की सरकार बनी तो उसमें व्यापारियों की भूमिका क्या होगी। दिल्ली में केजरीवाल ने दो सिद्धान्त रखे हैं। पहला ये कि अगर कोई व्यापार कर रहा है तो वह केवल अपनी नहीं बल्कि पूरे प्रदेश की तरक्की करता है। दूसरा ये कि व्यापार करना व्यापारी का काम है, सरकार का नहीं। दिल्ली में तमाम बंदिशों के बाद इतनी तरक्की हो सकती है तो उत्तराखंड में तो इससे भी ज्यादा हो सकती है। यहां अपार संभावनाएं हैं। व्यापारियों से बातचीत में सिसौदिया ने कहा कि हमारी सरकार बनवाइए। हमारा वित्त मंत्री कोई भी फैसला बिना व्यापारियों से बात किए बिना नहीं लेगा।

हमारी 49 दिन की सरकार दिल्ली में आई तो 29 अधिकारियों के खिलाफ रिश्वत मांगने के आरोप में कार्रवाई हुई। दोबारा सरकार आई तो हमनें सेल टैक्स के अधिकारियों के राज को खत्म किया। तब दिल्ली के इतिहास में सबसे ज्यादा टैक्स कलेक्शन हुआ था।

किसान संकल्प यात्रा: उत्तराखंड में आप सांसद भगवंत मान की हुंकार, कहा- सत्ता में आते ही किसानों को देंगे सात गारंटी

कहा कि केजरीवाल ने व्यापारियों के साथ बात की। व्यापार बढ़ाने पर बात की। अलग-अलग संगठनों ने वैट की दर कम करने का सुझाव रखा है। 12.5 फीसदी से 5 फीसदी पर हमनें बात की। दिल्ली के इतिहास में सबसे पहले हमनें टिम्बर पर टैक्स घटाया। इससे एक प्रतिशत ज्यादा राजस्व आया। अगले बजट में हमनें 42 उत्पादों पर टैक्स 5 फीसदी कर दिया। 5 साल के अंदर रेड राज बंद हो गया।

व्यापारी ईमानदारी से काम करना चाहता है। अगर उसे दुखी न करें तो वह टैक्स जमा करता है। व्यापारी की सबसे बड़ी पीड़ा सरकारी दफ्तर की खिड़कियां हैं। इससे दलाल राज बढ़ता है। उत्तराखंड में सरकार बनी तो यहां भी टैक्स कम ही होगा। व्यापारियों से आह्वान किया कि हमें बस आपका साथ चाहिए।

जीएसटी की प्रक्रिया को आसान बनाया

आज दिल्ली में बिजली नहीं बनती लेकिन फ्री और सस्ती बिजली 24 घंटे लोगों को मिलती है। जब जीएसटी लागू हुआ तो व्यापारियों की सीए पर निर्भरता बढ़ने लगी। हमनें व्यापारियों के लिए इसे आसान बनाया। 500 जीएसटी मित्र बनाए। सीएम हर छह माह में समस्या सुनते थे। मैं हर जीएसटी कौंसिल की बैठक से पहले व्यापारियों से बैठक करता हूं। इसके बाद बैठक में व्यापारियों की समस्या रखी जाती है। आज दिल्ली की ग्रोथ 11 से 12 फीसदी है और उत्तराखंड की 5 फीसदी। दिल्ली के आम आदमी की प्रति व्यक्ति आय तीन लाख 54 हजार है, उत्तराखंड में प्रति व्यक्ति आय 2 लाख है।

व्यापारियों के पास है बेरोजगारी की समस्या का समाधान

उन्होंने कहा कि देश में बेरोजगारी की समस्या का समाधान व्यापारियों के पास है। व्यापार बढ़ेगा तो रोजगार बढ़ेगा। हमनें दिल्ली में भी उद्यमिता का पाठ्यक्रम शुरू किया है। 9वीं से 12वीं और आगे की कक्षाओं के लिए यह शुरुआत की गई है। 11वीं- 12वीं के बच्चों को सीड मनी देने के लिए 100 करोड़ देने जा रहे हैं। उनसे बिजनेस आइडिया ले रहे हैं। 51 हजार बिजनेस आइडिया पर दिल्ली के बच्चे काम कर रहे। एक दिन यही सब बड़े बिजनेसमैन बनेंगे।

उत्तराखंड में आप के सीएम पद के उम्मीदवाल कर्नल अजय कोठियाल ने कहा कि दिल्ली में शिक्षा का जो मॉडल है, उसे देश के अलग-अलग राज्य फॉलो करने की कोशिश कर रहे हैं। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने शिक्षा का मॉडल पेश कर इतिहास रचा है। उत्तराखंड में शिक्षा की स्थिति बदहाल होती जा रही है। दिल्ली में शिक्षा, स्वास्थ्य की बेहतर सुविधा है। वहां का बजट लाभ में है। अगर उत्तराखंड में हमारी सरकार आएगी तो इस दिशा में काम करना हमारी प्राथमिकता होगी।

More Info…

- Advertisement -spot_img
- Advertisement -spot_img
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
- Advertisement -spot_img
Related News
- Advertisement -spot_img