- Advertisement -spot_img
HomeUttarakhandDehradunCleanliness Survey 2021: Uttarakhand Tops In Himalayan State - स्वच्छ सर्वेक्षण 2021:...

Cleanliness Survey 2021: Uttarakhand Tops In Himalayan State – स्वच्छ सर्वेक्षण 2021: 10 हिमालयी राज्यों में उत्तराखंड को मिला पहला स्थान, काशीपुर का प्रदर्शन बेहद खराब

- Advertisement -spot_img

स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 में नगर निगम देहरादून की रैंकिंग में सुधार हुआ है। जबकि नगर निगम काशीपुर का प्रदर्शन बेहद खराब रहा है।

स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 में उत्तराखंड राज्य की रैंकिंग में सुधार हुआ है। 10 हिमालयी राज्यों की रैंकिंग में उत्तराखंड ने पहला स्थान हासिल किया है। वहीं 100 से कम शहरों वाले राज्यों में उत्तराखंड का देश में चौथा स्थान है। गत वर्ष की तुलना में राष्ट्रीय स्तर पर रैंकिंग में 95 अंकों की बढ़ोतरी हुई है। नगर निगम देहरादून की रैंकिंग में सुधार हुआ है। जबकि नगर निगम काशीपुर का प्रदर्शन बेहद खराब रहा है।

शहरी विकास मंत्रालय की ओर से स्वच्छ सर्वेक्षण की रैंकिंग जारी की गई
शनिवार को शहरी विकास मंत्रालय की ओर से स्वच्छ सर्वेक्षण की रैंकिंग जारी की गई। विज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने स्वच्छता में उत्कृष्ट कार्य करने वाले राज्यों व निकायों को सम्मानित किया। उत्तराखंड से नगर पालिका शिवालिक नगर, छावनी परिषद देहरादून को इनोवेशन एंड बेस्ट प्रैक्टिसेज और छावनी परिषद लैंसडाउन को अधिकतम नागरिक सहभागिता श्रेणी में उत्कृष्ट कार्य के लिए राष्ट्रीय स्तर पर सम्मानित किया गया। शहरी विकास के अपर निदेशक अशोक कुमार पांडे ने पुरस्कार प्राप्त किया।

स्वच्छता सर्वेक्षण 2021: उत्तराखंड में देहरादून रहा अव्वल, देश के सबसे स्वच्छ शहरों में मिला 82वां स्थान

100 से कम शहरों वाले राज्यों में उत्तराखंड ने देश में चौथा और 10 हिमालयी राज्यों में पहला स्थान हासिल किया है। कचरा मुक्त सिटी स्टार रेटिंग में पहली बार राज्य के तीन निकाय नगर निगम देहरादून, रुड़की और नगर पालिका मुनिकी रेती को वन स्टार सिटी घोषित किया गया। 25 हजार से कम आबादी वाले 720 शहरों में मुनिकीरेती ने देश में 11 वां स्थान प्राप्त किया।

स्वच्छ भारत अभियान के तहत स्वच्छता सर्वेक्षण में राज्य के निकायों की रैंकिंग में बड़ा सुधार हुआ है। 100 से कम शहरों वाले राज्य में उत्तराखंड राष्ट्रीय स्तर पर चौथे स्थान पर रहा है। यह हम सभी के लिए गौरव की बात है। राज्य की रैंकिंग में और सुधार करने के लिए सभी को ग्रीन व क्लीन उत्तराखंड का संकल्प लेना होगा। रैंकिंग में सुधार के लिए पर्यावरण मित्र सबसे ज्यादा बधाई के पात्र हैं।
-बंशीधर भगत, शहरी विकास मंत्री

राज्य – अंक – रैंकिंग

उत्तराखंड – 1325 – 1

हिमाचल – 1050 – 2

नागालैंड – 1000 – 3

मणिपुर – 950 – 4

असम – 950 – 5

मिजोरम – 950 – 6

सिक्किम – 925 – 7

अरुणाचल – 925 – 8

त्रिपुरा – 900 – 9

मेघालय – 225 – 10

देहरादून जिले की राष्ट्रीय स्तर पर 134 रैंकिंग
स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 में देहरादून जिले को राष्ट्रीय स्तर पर 134 रैंकिंग मिली है। जबकि प्रदेश में पहले स्थान रहा है। इसी तरह रुद्रप्रयाग जिले की 340 रैंकिंग के साथ प्रदेश में दूसरे और हरिद्वार जिला 370 रैंकिंग के साथ प्रदेश में तीसरे स्थान पर रहा है। राष्ट्रीय रैंकिंग में देश के कुल 659 जिले शामिल थे।

देश के 372 शहरों में नगर निगम स्तरीय रैंकिंग
निकाय – 2019 – 2020 – 2021
देहरादून – 384 – 124 – 82
रुड़की – 281 – 131 – 101
रुद्रपुर – 403 – 316 – 257
हल्द्वानी – 350 – 229 – 281
हरिद्वार – 376 – 224 – 285
काशीपुर – 308 – 139 – 342

50 हजार से एक लाख आबादी वाले 95 शहरों की रैंकिंग में
निकाय – राज्य स्तरीय रैंकिंग – राष्ट्रीय स्तरीय रैंकिंग
ऋषिकेश – 1 – 53
मंगलौर – 2 – 70
रामनगर – 3 – 81

25 से 50 हजार आबादी वाले 200 शहरों की रैंकिंग में
निकाय – राज्य स्तरीय रैंकिंग – राष्ट्रीय स्तरीय रैंकिंग
मसूरी – 1 – 91
नैनीताल – 2 – 106
शिवालिक नगर – 3 – 122

25 हजार से कम आबादी वाले 720 शहरों की रैंकिंग में
निकाय – राज्य स्तरीय रैंकिंग – राष्ट्रीय स्तरीय रैंकिंग
मुनिकी रेती – 1 – 11
चंबा – 2 – 52
नरेंद्र नगर – 3 – 123

छावनी परिषद में 62 शहरों की रैंकिंग में
छावनी परिषद – राज्य स्तरीय रैंकिंग – राष्ट्रीय स्तरीय रैंकिंग
लैंसडाउन – 1 – 18
रानीखेत – 2 – 21
नैनीताल – 3 – 31

गंगा शहर एक लाख से ज्यादा आबादी वाले 48 शहरों की रैंकिंग में
निकाय – राज्य स्तरीय रैंकिंग – राष्ट्रीय स्तरीय रैंकिंग
हरिद्वार – 1 – 5

गंगा शहर एक लाख से कम आबादी वाले 43 शहरों की रैंकिंग में
निकाय – राज्य स्तरीय रैंकिंग – राष्ट्रीय स्तरीय रैंकिंग
ऋषिकेश – 1 – 6
कीर्तिनगर – 2 – 8
चमोली – 3 – 9

विस्तार

स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 में उत्तराखंड राज्य की रैंकिंग में सुधार हुआ है। 10 हिमालयी राज्यों की रैंकिंग में उत्तराखंड ने पहला स्थान हासिल किया है। वहीं 100 से कम शहरों वाले राज्यों में उत्तराखंड का देश में चौथा स्थान है। गत वर्ष की तुलना में राष्ट्रीय स्तर पर रैंकिंग में 95 अंकों की बढ़ोतरी हुई है। नगर निगम देहरादून की रैंकिंग में सुधार हुआ है। जबकि नगर निगम काशीपुर का प्रदर्शन बेहद खराब रहा है।

शहरी विकास मंत्रालय की ओर से स्वच्छ सर्वेक्षण की रैंकिंग जारी की गई

शनिवार को शहरी विकास मंत्रालय की ओर से स्वच्छ सर्वेक्षण की रैंकिंग जारी की गई। विज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने स्वच्छता में उत्कृष्ट कार्य करने वाले राज्यों व निकायों को सम्मानित किया। उत्तराखंड से नगर पालिका शिवालिक नगर, छावनी परिषद देहरादून को इनोवेशन एंड बेस्ट प्रैक्टिसेज और छावनी परिषद लैंसडाउन को अधिकतम नागरिक सहभागिता श्रेणी में उत्कृष्ट कार्य के लिए राष्ट्रीय स्तर पर सम्मानित किया गया। शहरी विकास के अपर निदेशक अशोक कुमार पांडे ने पुरस्कार प्राप्त किया।

स्वच्छता सर्वेक्षण 2021: उत्तराखंड में देहरादून रहा अव्वल, देश के सबसे स्वच्छ शहरों में मिला 82वां स्थान

100 से कम शहरों वाले राज्यों में उत्तराखंड ने देश में चौथा और 10 हिमालयी राज्यों में पहला स्थान हासिल किया है। कचरा मुक्त सिटी स्टार रेटिंग में पहली बार राज्य के तीन निकाय नगर निगम देहरादून, रुड़की और नगर पालिका मुनिकी रेती को वन स्टार सिटी घोषित किया गया। 25 हजार से कम आबादी वाले 720 शहरों में मुनिकीरेती ने देश में 11 वां स्थान प्राप्त किया।

स्वच्छ भारत अभियान के तहत स्वच्छता सर्वेक्षण में राज्य के निकायों की रैंकिंग में बड़ा सुधार हुआ है। 100 से कम शहरों वाले राज्य में उत्तराखंड राष्ट्रीय स्तर पर चौथे स्थान पर रहा है। यह हम सभी के लिए गौरव की बात है। राज्य की रैंकिंग में और सुधार करने के लिए सभी को ग्रीन व क्लीन उत्तराखंड का संकल्प लेना होगा। रैंकिंग में सुधार के लिए पर्यावरण मित्र सबसे ज्यादा बधाई के पात्र हैं।

-बंशीधर भगत, शहरी विकास मंत्री

More Info…

- Advertisement -spot_img
- Advertisement -spot_img
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
- Advertisement -spot_img
Related News
- Advertisement -spot_img