spot_img
HomeCoronavirusInter-Ministerial Meeting Going On Amid Growing Concern On New Corona Strain May...

Inter-Ministerial Meeting Going On Amid Growing Concern On New Corona Strain May Issue New Guideline Ann

- Advertisement -spot_img

Covid New Strain: कोरोना के नए वेरिएंट सामने आने के बाद दुनियाभर में दहशत का माहौल बना हुआ है. ऐसे में कोविड-19 के नए वेरिएंट जिन देशों में आए हैं वहां से आने वाली फ्लाइट्स को लेकर मंत्रालयों की बातचीत चल रही है. इसमें नागरिक उड्डयन मंत्रालय, गृह मंत्रालय और स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ मिलकर इस बारे में नई गाइडलाइन तैयार की जा रही है.

हालांकि, अभी कोई नया आदेश जारी नहीं किया गया है, लेकिन सूत्रों के अनुसार सरकार फ्लाइट्स बैन के पक्ष में नजर नहीं आ रही है बल्कि सख्त मॉनिटरिंग के पक्ष में है. जल्द इस बारे में नई गाइडलाइन जारी की जा सकती है. गौरतलब है कि कोरोना के नए स्ट्रेन ओमिक्रोन के नए मामले दक्षिण अफ्रीका में आने के बाद हड़कंप मचा हुआ है. इसे डेल्टा भी ज्यादा खतरनाक माना जा रहा है. इस नए वेरिएंट की वजह से कई देशों ने फ्लाइट्स पर पाबंदी लगा दी है.

कोरोना के नए स्ट्रेन से हड़कंप

दूसरी तरफ, जेनेवा में विश्व व्यापार संगठन (WTO) का मंत्रिस्तरीय सम्मेलन स्थगित कर दिया गया है. विश्व व्यापार संगठन का कहना है कि कोविड-19 वायरस के एक विशेष रूप से संक्रमणीय प्रकोप के बारे में चिंताओं को लेकर जेनेवा में अपने व्यक्तिगत मंत्रिस्तरीय सम्मेलन को स्थगित कर दिया है. अगले हफ्ते विश्व व्यापार संगठन मंत्रिस्तरीय सम्मेलन होना था लेकिन ओमिक्रॉन वेरिएंट से दहशत के बीच आखिरी वक्त में इसे स्थगित कर दिया गया.

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की एक समिति ने कोरोना वायरस के नये स्वरूप को ‘ओमीक्रॉन’ नाम दिया है और इसे ‘बेहद संक्रामक चिंताजनक स्वरूप’ करार दिया है. इससे पहले इस श्रेणी में कोरोना वायरस का डेल्टा स्वरूप था जिससे यूरोप और अमेरिका के कई हिस्सों में लोगों ने बड़े पैमाने पर जान गंवाई. अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने नए स्वरूप के बारे में कहा, ‘‘ऐसा लगता है कि यह तेजी से फैलता है.’’ नयी यात्रा पाबंदियों की घोषणा करते हुए उन्होंने पत्रकारों से कहा, ‘‘मैंने फैसला किया है कि हम सतर्कता बरतेंगे.’’

WHO ने दुनिया को चेताया

डब्ल्यूएचओ ने कहा कि ओमीक्रॉन के वास्तविक खतरों को अभी समझा नहीं गया है लेकिन शुरुआती सबूतों से पता चलता है कि अन्य अत्यधिक संक्रामक स्वरूपों के मुकाबले इससे फिर से संक्रमित होने का जोखिम अधिक है. इसका मतलब है कि जो लोग कोविड-19 से संक्रमित हो चुके हैं और उससे उबर गए हैं, वे फिर से संक्रमित हो सकते हैं। हालांकि, यह जानने में हफ्तों का वक्त लगेगा कि क्या मौजूदा टीके इसके खिलाफ कम प्रभावी हैं.

दक्षिणी अफ्रीका में कोरोना वायरस का नया स्वरूप सामने आने के बाद अमेरिका, कनाडा, रूस और कई अन्य देशों के साथ यूरोपीय संघ ने उस क्षेत्र से आने वाले लोगों पर प्रतिबंध लगा दिया है. व्हाइट हाउस ने कहा कि अमेरिका सोमवार से दक्षिण अफ्रीका और क्षेत्र में सात अन्य देशों से आने वाले लोगों पर प्रतिबंध लगाएगा। बाइडन ने कहा कि इसका मतलब है कि देश लौट रहे अमेरिकी नागरिकों और स्थायी निवासियों के अलावा इन देशों से न कोई आएगा और न ही कोई वहां जाएगा.

ये भी पढ़ें:

कोरोना के नए वेरिएंट ‘Omicron’ के आगे वैक्सीन फेल? Pfizer, BioNTech ने दिया बड़ा बयान

Omicron: डेल्टा से भी ज्यादा खतरनाक कोरोना का नया वेरिएंट ‘ओमिक्रोन’, जानें इसके बारे में सब कुछ

More Info…

- Advertisement -spot_img
- Advertisement -spot_img
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
- Advertisement -spot_img
Related News
- Advertisement -spot_img